@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर
कैलाश विजय वर्गीय ही वह शख्सियत है जो स्वर्णिम, समृद्ध और खुशहाल मध्यप्रदेश बनाने की काबिलियत, योग्यता और क्षमता रखते हैं!

कैलाश विजयवर्गीय मध्यप्रदेश के सर्वोत्तम मुख्यमंत्री बनने की काबिलियत, योग्यता और क्षमता रखते हैं! लेकिन सिर्फ दो कारणो से उनकी प्रतिभा, योग्यता और क्षमता को स्वर्णिम, समृद्ध और खुशहाल मध्यप्रदेश बनाने से नहीं रोका जा सकता है!

वो दो कारण मे से पहला और जाति आधारित राजनीति का प्रमुख कारण है कि वह न तो वो आदिवासी वर्ग से आते हैं! और न ही पिछड़े वर्ग से! और दूसरा बंगाल में एक फर्जी केस जिसका कैलाश जी के व्यक्तित्व और चरित्र के सामने कोई मूल्य नहीं है
कैलाश विजय वर्गीय के व्यक्तित्व में विपरीत परिस्थितियों में अदम्य साहस, नया और सर्वश्रेष्ठ करने का जुनून और संकल्प, और अपनी जनता और कार्यकर्ताओं के सुख – दुख के लिए किसी भी हद तक जाने का उनका स्वभाव उन्हें न सिर्फ राजनीतिज्ञों में सर्वश्रेष्ठ बना देता है! वरन उनके नाम कैलाश को “अजेय कैलाश” के रूप में सार्थक बना देता है!
एक मिल मजदूर का धार्मिक, सामाजिक, मातृ – पितृ और राष्ट्र भक्त पुत्र ने इन्दौर की श्रमिक बस्तीयों के क्षेत्र क्रमांक 2 से जो कांग्रेस के शाशन काल में अपराधियों और असामाजिक तत्वों का गढ़ हुआ करती थी! से अपना राजनैतिक जीवन शुरू किया!
और छात्र राजनीति से इंदौर शहर के सबसे सर्वश्रेष्ठ मेयर तक का सफर वो भी भाजपा मे रहकर कांग्रेस के शाशन काल में आधुनिक इंदौर की नीव रख दी थी! यह उनकी राजनैतिक काबिलियत और क्षमता को बताता है कि विपरीत माहौल में भी विकास को आगे बढ़ाने से उन्हें कोई नहीं रोक सकता हैं!
जनता से उनका और उनका जनता से जुड़ाव, आत्मीयता और प्यार किस हद तक है, यह उनकी 7 बार अलग अलग 4 विधानसभाओ से विजय रहना ही अपने आप में सिद्ध कर देता है! किसी सबूत या तर्क की कही कोई आवश्यकता नहीं!
इन्दौर जैसे शहर का महापौर और प्रदेश सरकार में 12 साल केबिनेट मंत्री रहकर अपनी प्रशासनिक क्षमताओं और काबिलियत से न सिर्फ शहर वरन पूरे प्रदेश को परिचय दे चुके हैं अजेय कैलाश!
राष्ट्र के प्रति अगाध प्रेम, भारतीय सभ्यता, संस्कृति और संस्कारों पर अटूट विश्वास, से ओत प्रोत! कैलाश विजय वर्गीय के व्यक्तित्व में वो सभी खूबी है जो भाजपा की विचारधारा और प्रधान मंत्री मोदी के विकसित भारत बनाने के सपने को पूरा करने के लिए चाहिये!
@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *