jpt1369122344

सबसे जुदा है यहां का कल्चर

WGthai01

थाईलैंड दक्षिण पूर्वी एशिया में एक देश है। इसकी पूर्वी सीमा पर लाओस और कम्बोडिया, दक्षिणी सीमा पर मलेशिया और पश्चिमी सीमा पर म्यांमार है। थाई शब्द का अर्थ थाई भाषा में आज़ाद होता है। यह शब्द थाई नागरिकों के संदर्भ में भी इस्तेमाल किया जाता है। थाईलैंड की राजधानी बैंकॉक है। थाईलैंड के बारे में कई दिलचस्प बातें सुनी होगी, यहां आने की उत्सुकता हर भारतीय में क्यों दिखती है। दरअसल, यहां ऐडवैंचर के शौकीनों के लिए उम्दा विकल्प तो हैं हीं, मौजमस्ती के ठिकानों की भी यहां कोई कमी नहीं है। फिर चाहे वह वॉकिंग स्ट्रीट हो या फिर मसाज पार्लर्स।

रात का नजारा

Thailand_Pattaya_bargirls_in_street_1725_1

चमकदार नियौन बोर्ड, सैलानियों के साथ खूबसूरत थाई लड़कियों का लिपटना-चिपटना और उन्मुक्त वातावरण। यहां अच्छा-खासा मेला सा लगा हुआ रहता है। जगह-जगह थाई मसाज के बोर्ड लगे रहते हैं, जिन पर लिखा रहता है ‘यहां का मसाज मशहूर है। हाथों का, पैरों का, जांघों का, बांहों का, पूरे बदन का मसाज। लड़कियों द्वारा मसाज सैलानियों के लिए खास आकर्षण है।Ó
शांत और एकांत
थाईलैंड में सैलानियों की पसंदीदा जगहों में राजधानी बैंकॉक, पटाया व फुकेत जैसे तटीय इलाके के अलावा उत्तर में चियांग माई और दक्षिण में क्राबी भी हैं। क्राबी भी अपने खूबसूरत समुद्र तटों और समुद्र में पसरे पड़े बेमिसाल द्वीपों के लिए प्रसिद्ध है। चूंकि क्राबी में फुकेत व पटाया जैसी सैलानियों की भीड़ नहीं है, इसलिए भी थोड़े एकांत व सुकून की तलाश करने वाले नवविवाहित जोड़ों के लिए थाईलैंड में इससे बेहतर जगह कोई नहीं। क्राबी के निकट फीफी द्वीप का माया बे तो मानो कल्पनालोक सरीखा है।
ट्री टॉप एडवेंचर पार्क
अगर आप व आपका हमसफर हो थोड़ा एडवेंचर प्रेमी, तो क्राबी का यह आकर्षण आपको बेहद पसंद आएगा। घने जंगल में इन पेड़ों के बीच आप खुद को टार्जन महसूस करेंगे। पेड़ों पर बाइसिक्लिंग आपको एशिया में शायद ही कहीं और मिले। लंबी-लंबी जिपलाइनों के अलावा रोप-ब्रिज, टार्जन स्विंग, फ्लाईंग स्केट बोर्ड, बहुत कुछ है यहां। सफेद रेत की एक चौड़ी परत दोनों तरफ खड़ी पहाड़ी से घिरी हुई है। ऐसी जगह जिसकी खूबसूरती दोनों आपको वाकई सुकून देती है।
मसाज का मजा

Thailand_Pattaya_Wong_Amat_Beach_beach_massage_2244_1

थाईलैंड 2 बातों के लिए जाना जाता है, हाथी और मसाज। यहैं ऐलीफैंट शो अकसर आयोजित किए जाते हैं। मसाज पॉर्लरों में लगभग हर दूसरा सैलानी स्पॉ, मसाज आदि का लुत्फ अवश्य उठाता है। मसाज पॉर्लर के 2 तरह से होती है। एक पुरुषों के लिए और दूसरा स्त्रियों के लिए। पैरों की, बाजुओं की या पूरे शरीर की यानी हाफ बॉडी मसाज या फुल बॉडी मसाज, जैसी चाहे कराइए। थाई लड़कियां अपने हुनर के साथ मौजूद रहती हैं।
बैंकॉक
बैंकॉक थाइलैंड की राजधानी है। यहां ऐसी अनेक चीजें पर्यटकों को आकर्षित करती हैं। इनमें से सबसे प्रसिद्ध हैं मरीन पार्क और सफारी। मरीन पार्क में प्रशिक्षित डॉल्फिन अपने करतब दिखाती हैं। यह कार्यक्रम बच्चों के साथ-साथ बड़ों को भी खूब लुभाता है। सफारी वल्र्डी विश्व का सबसे बड़ा खुला चिडिय़ाघर (प्राणी उद्यान) है। यहां एशिया और अफ्रीका के लगभग सभी वन्य जीवों को देखा जा सकता है। यहां की यात्रा थकावट भरी लेकिन रोमांचक होती है। रास्ते में खानपान का इंतजाम भी है।
पट्टया

0

बैंकॉक के बाद पट्टया थाइलैंड का सबसे प्रमुख पर्यटक स्थल है। यहां भी घूमने-फिरने लायक अनेक खूबसूरत स्थान हैं। यहां के कोरल आइलैंड पर पैरासेलिंग और वॉटर स्पोटर््स का आनंद उठाया जा सकता है। यहां पर कांच के तले वाली नाव भी उपलब्ध होती हैं, जिससे जलीय जीवों और कोरल को देखा जा सकता है। कोरल आइलैंड में एक रत्न दीर्घा भी है जहां बहुमूल्य रत्नों के बारे में जानकारी ली जा सकती है, लेकिन इस आइलैंड में आने से पहले यह जान लें कि यहां का एक ड्रेस कोड है जिसका पालन करना आवश्यक है। कोई पर्यटक पट्टया आए और अलकाजर कैबरट न जाए, ऐसा नहीं हो सकता। यहां पर नृत्य, संगीत व अन्य कार्यक्रमों का आनंद उठाया जा सकता है। यहां होने वाले कार्यक्रमों की खास बात यह है कि इसमें काम करने वाली खूबसूरत अभिनेत्रियां वास्तव में पुरुष होते हैं।
चियांग माई
बैंकॉक से करीब 700 किमी दूर चियांग माई थाईलैंड का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। पुरानी दुनिया का अहसास कराते इस शहर में करीब 300 से ज्यादा मंदिर हैं। यहां से आप पर्वतों को भी देख सकते हैं। यह शहर आधुनिक भी हैं जहां आपको पूरी दुनिया के रंग मिल जाएंगे। चियांग माई खानपान व खरीदारी के शौकीनों और आशियाने की तलाश कर रहे लोगों के लिए बिल्कुल सही जगह है। बहुत सारे मंदिरों के अलावा यहां आरामदायक उद्यान, रात को लगने वाले बाजार, खूबसूरत संग्रहालय भी हैं जहां पर आराम से समय गुजारा जा सकता है।
वॉकिंग स्ट्रीट

1392110903_1!!-!!1390037841_2-bangkok-phi-islands-beach-1104604

‘वॉकिंग स्ट्रीटÓ के बारे में बहुत सुना होगा। ‘स्ट्रिपटीज शोÓ के लिए जानी जाती है यह जगह। बच्चों के साथ यहां घूमना मुनासिब नहीं है। एकदम जुदा नजारा। उन्मुक्त व्यवहार करती सैक्स वर्कर्स ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए जगह-जगह खड़ी रहती है। उनका अश्लील इशारा ऐसा कि नौजवान खिंचे चले आएं। यहां अलग-अलग देशों से आए अधेड़ पर्यटक देखने को मिल जाएंगे। पुरुषों के लिए ऐसी ऐशगाह और वह भी बिना पुलिसिए डर के शायद यहीं संभव है। यही वह गली है जो अपनी मांसल अदाओं से मर्दों को बार-बार दीवाना बनाती है। यहां का बुलावा आते ही मर्द यहां दौड़े चले आते हैं। सस्ती सेविकाओं का उन्मुक्त व्यवहार, तो फिर जादुई आकर्षण में भला कौन न बंध जाए। न्यूड शोज के बोर्ड जगह-जगह चमकते दिखेंगे। लड़का-लड़कियों दोनों के अलग-अलग शोज भी यानी स्त्रियों के मनोरंजन का भी ध्यान रखा जाता है। यहां ‘लेडी बॉयजÓ भी उपलब्ध है। कई बार धोखे में ग्राहक लड़कियों की पोशाक पहने लड़कों को ले जाते हैं और फिर सिर पीटते हैं। ऐसे कई केस सुनने में आए। इस तरह लुटे-पिटे लोग कहीं शिकायत भी नहीं कर सकते। थाईलैंड जो कभी निर्धन देशों की कतार में शामिल था, आज काफी संपन्न देशों में गिना जाता है। पटाया के विकास के लिए सरकार ने यहां 16 से 25 वर्ष की लड़कियों को देह व्यापार के लिए लाइसेंस देना शुरू किया, ऐसा सुना गया है।
क्यों खास है….

  • थाईलैंड हमारे देश के समय में डेढ़ घंटे आगे है।
  • भारी तादाद में नौजवान, प्रौढ़ सभी यहां मस्ती मारने आते हैं।
  • यहां की मुद्रा ‘भाटÓ है जो रुपए के मुकाबले सस्ती है।
  • यहां लड़कियां ही सब काम करती हैं। होटलों में, बार में, दुकानों पर, हर जगह। इन की पहचान ‘सेविकाÓ रूप में थी।

फुकेट
यह थाईलैंड का सबसे बड़ा, सबसे अधिक आबादी वाला द्वीप है। सबसे ज्यादा पर्यटक यहां आते हैं। रंगों से भरी इस जगह का विकास मुख्य रूप से पर्यटन की वजह से ही हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.