@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर
इन्दौर के भाजपाई और कांग्रेसी बाहुबली शुक्ला परिवारो का कब्जा है यूनिवर्सिटी की जमीन पर!
इंदौर के साँवेर रोड पर स्थित वैष्णव विद्ध्यपीठ प्राइवेट यूनिवर्सिटी न सिर्फ अपने यहाँ संचालित डिग्री कोर्सेस और अन्य कई तकनीकी व दावों को लेकर गंभीर मुद्दो पर विवादास्पद है! वही दूसरी तरफ जिस 100 बीघा जमीन पर वैष्णव विद्ध्यपीठ प्राइवेट यूनिवर्सिटी निर्मित है वह जमीन के मालिकाना हक को लेकर भी सवालों के घेरे में हैं!
वैष्णव विद्ध्यपीठ ट्रस्ट जिसके अधीन वैष्णव विद्ध्यपीठ प्राइवेट यूनिवर्सिटी संचालित की जा रही है! उसके एक चौथाई भू भाग पर इंदौर के राजनीतिक, धन बल और बाहुबल से सशक्त बाणगंगा और जिंसी के शुक्ला परिवारों का अवैध रूप से कब्जा है!?
वैष्णव विद्ध्यपीठ ट्रस्ट के पिछले 17 सालो से स्वयंभू अध्यक्ष पुरुषोत्तम दास पसारी ने इंदौर कलेक्टर कार्यालय के तहसील न्यायालय मल्हारगंज में एक प्रकरण सन 2017 से दायर कर रखा है कि वैष्णव विद्ध्यपीठ ट्रस्ट की जमीन के 13 खसरो (खसरा नंबर – 91,104,102/1,102/2/2/2,93,92/1,92/4,90/1/1,90/1/2,151,153,11/1,12/,)की तकरीबन 25 बीघा जमीन पर राकेश पिता दिनेश शुक्ला, दिनेश पिता दुर्गा प्रसाद शुक्ला निवासी 94 दुर्गा भवन, बाणगंगा मेनरोड इंदौर व कृपाशंकर पिता महावीर प्रसाद शुक्ला (पूर्व शहर कांग्रेस और आई डी ए अध्यक्ष) और उनके भाइयो मनोहर प्रसाद एव बालकृष्ण पिता महावीर प्रसाद शुक्ला निवासी 61 जिंसी मेनरोड आदि का अवैध रूप से कब्जा है! और शाशन से कब्जा खाली करवाने हेतु प्रकरण चल रहा है!तहसील न्यायालय द्वारा सभी कब्जा धारियों को प्रकाशित नोटिस जारी किए हैं!?
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वैष्णव विद्ध्यपीठ ट्रस्ट के अध्यक्ष पुरुषोत्तम पसारी और ट्रस्ट के अन्य सदस्यों ने ग्राम बारोंली साँवेर रोड पर जिस जमीन पर वैष्णव विद्ध्यपीठ प्राइवेट यूनिवर्सिटी संचालित की जा रही है उसकी खरीदी मे बड़े पैमाने पर राजस्व को हानि पहुंचाई है! मिली जानकारी के अनुसार जमीन का नामांतरण दान के रूप में ट्रस्ट के नाम पर करवाया है!
@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

Leave a Reply

Your email address will not be published.