भाजपा प्रवक्ता उमेश शर्मा विधायक संजय शुक्ला की आड़ में इंदौर की जनता का ऐसे मुश्क़िल समय में बेहूदा और भद्दा मज़ाक उड़ा रहे हैं!

@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर
इंदौर. यदि संजय शुक्ला राजनीति कर रहे हैं तो सही राजनीति कर रहे हैं है! चुना हुआ विधायक जनता की आवाज होता है! किसी पार्टी का प्रवक्ता नहीं! आज इंदौर को ऐसी ही राजनीति की जरूरत है! जो कम से कम सिस्टम, सरकार और प्रशासन को जनता के हालात और सिस्टम की नाकामी से रुबरु करवाए! न कि अपने राजनीतिक स्वार्थ के लिए और अपने पार्टी के आकाओ को खुश करने के लिए कुतर्कों और इन्दौरी भाषा में बक….दी कर किसी निर्वाचित जनप्रतिनिधि का राजनीतिक अनर्गल उपहास उड़ाए!
भाजपा प्रवक्ता उमेश शर्मा अपनी दमित, कुंठित और लंबे समय से पार्टी द्वारा उपेक्षा की मानसिकता से उपजे कुतर्कों से कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला का राजनीतिक उपहास करने का जो निकृष्ट दर्जे का कृत्य ऐसे समय में जब चारो तरफ त्राहि त्राहि मची हो (चुनाव का समय भी नहीं है ) अपनी अहंकारी और आत्मगर्वित तथाकथित वक्तव्य शैली से सोशल मीडिया के माध्यम से कर रहे है!
ये अपनी ही पार्टी की सरकार के विधायकों, मंत्रियों और जिला संगठन के पदाधिकारियों की नपुंसकता और अकर्मण्यता से उपजी कुंठा और हताशा को इंगित कर रहा है!
इंदौर में बिना कैलाश विजय वर्गीय के पूरी भाजपा शून्य, अकर्मण्य, दिशाहीन, लाचार, बेबस और अनाथ है!यह निर्विवादित सत्य है!
जब इंदौर की जनता के द्वारा चुना गया एक जनप्रतिनिधि नवजवान हर लिहाज से समर्थ विधायक यदि इंदौर की जनता के लिए सरकार, प्रशासन और अस्पतालों में फैली असहनीय अदूरदर्शिता,अराजकता,अकर्मण्यता,अक्षमता, अपराधिकता को पूरी सत्यता, सबूत और घटना स्थल मौके नक्शे के साथ उजागर करता है!
अपनी स्वयं की सामर्थ्य को तन, मन और धन से शहर की जनता के हित के लिए देने को तैयार है! तो वो कौन लोग हैं जो इसे राजनीतिक प्रतिद्वंदता और वैमनस्यता के अहंकारी चश्मे से इंदौर की जनता के लोकतांत्रिक अधिकारों का उपहास उड़ाने का निकृष्ट प्रयास कर रहे हैं!
ऐसे लोग एक बार अपनी सरकार और पार्टी के पूर्व और वर्तमान विधायकों, सांसदो और पदाधिकारियों का ऐसे भयानक हालात में शुतुरमुर्गीय आचरण देखेंगे तो चुल्लू भर पानी काफी है! शर्म से…. के लिए!
हाँ एक बात जरूर ध्यान रखना मैं कांग्रेस का न तो प्रशंसक हू, न किसी पार्टी के तलुए चाटने वाला पत्रकार और न ही संजय शुक्ला का गुलाम!
@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

Leave a Reply

Your email address will not be published.