किसी भी CNG किट जो ऑटो मोबाइल वाहनो खासकर पेट्रोल कारो, ऑटो रिक्शा मे लगाई जाती है, उस पर 28 फीसदी GST व्यापारियों को देना आवश्यक है. ओरीजनल कंपनी की आयातित और देशी CNG किट +गैस सिलिंडर की कुल कीमत 40 हजार से लेकर 52000 हजार रुपए तक होती है! इस कीमत पर 28 फीसदी GST कर सरकार को देना है!
CNG किट फिट करने वालों और बेचने वालो के द्वारा यह 28 फीसदी GST ग्राहको से तो वसूल लिया जाता है! लेकिन सरकार के राजस्व विभाग GST कार्यालय को आज तक जमा नहीं किया गया है!
नया CNG गैस सिलिंडर 19 हजार रुपए से लेकर 25 हजार रुपए तक का आता है!
GST नियमों के मुताबिक CNG किट की पूरी परिभाषा CNG सिलिंडर के साथ है! इसलिए CNG किट +सिलिंडर पर कुल 28 प्रतिशत GST देना कानूनन अनिवार्य है.

आर टी ओ कार्यालय अवैधानिक तरीके से पुराने, उपयोग किए हुए और समय सीमा के बाहर हो चुके CNG गैस सिलिंडर को मान्यता देकर GST चोरी करने वाले गैस किट फिट करने वालों और बेचने वाले व्यापारियों की GST चोरी मे खुलेआम मदद कर गैर कानूनी काम कर रहा है!?

हर महीने 20 लाख रुपये की रिश्वत लेकर इन्दौर आर टी. ओ ऑफिस दे रहा है अवैध, डुप्लीकेट और पुराने सिलिंडर लगी CNG किट कारो को मान्यता!?
बिना आर. टी. ओ, CNG गैस किट निर्माताओं और भारत सरकार की टेस्टिंग एजेंसी से जांच करवाएं जनता की कारों और ऑटो रिक्शा मे अवैध और गैर कानूनी तरीके से लगा रहे हैं CNG गैस किट!?
और ये सब गैर कानूनी हो रहा है इंदौर आर. टी. ओ ऑफिस के अधिकारी, मोहन सिंह, निशा चौहान और आर. टी. ओ रघुवंशी की देख रेख मे!?
जब से पेट्रोल, डीजल के दामों में बेताहाशा वृद्धि हुई है तब से इंदौर व उसके आसपास के जिलों में बड़े पैमाने पर पुरानी पेट्रोल और डीजल कारो मे 15 से ज्यादा व्यापारियों और गैस किट फिट करने वाले अधिकृत और अनाधिकृत सेंटरो द्वारा CNG किट लगायी जा रही है!
तकरीबन 2000 कारो मे हर महीने CNG गैस किट लगायी जा रही है! इस तथ्य की सच्चाई इंदौर RTO कार्यालय से की जा सकती है, RTO कार्यालय ही कार के रजिस्ट्रेशन मे CNG किट को मान्यता देता है!
RTO से मान्यता प्राप्त करने के लिए CNG किट का पक्का बिल देना अनिवार्य है.
इस तरह सिर्फ इंदौर में 2000 CNG किट कारो में लगाई जाती है जिसका बाजार मूल्य तकरीबन 10 करोड़ रुपए होता है,जिस पर GST कर तकरीबन 2 करोड़ 80 लाख रुपए प्रति माह होता है! इस तरह साल भर में तकरीबन 30 करोड़ की GST चोरी सिर्फ इंदौर मे हो रही है! क्या कर रहे है GST के इंदौर में बैठे बड़े अधिकारी!
@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

Leave a Reply

Your email address will not be published.