जवाब दे इंदौर के सांसद और विधायक, कहां गया पिछले एक साल में 23 करोड़ रुपया!?

  • 5 करोड़ रुपए सांसद निधि प्रति वर्ष और 2 करोड़ विधायक निधि प्रति वर्ष! ये कोरोना काल में किस मद में खर्च किया जा रहा है!?

  • सिर्फ इंदौर के विधायक और सांसद अपनी सांसद और विधायक निधि पिछले 1 साल में अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर के लिए दे देते तो ये हालात न होते!? ये रकम दो साल मे कुल 46 करोड़ रुपए होती है!

@ प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

इंदौर। अभी हाल ही में कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला 50 लाख रुपए का ब्लैंक चेक लेकर इंदौर कलेक्टर के पास गए थे और कहा था इसमें भर लो जितनी रकम भरनी है और मुझे 5 हजार रेमडेसिवीर इंजेक्शन दे दो। इसकी कुल सरकारी कीमत मात्र 60 लाख रुपए हैं, जबकि विधायक संजय शुक्ला को 2 करोड़ रुपया प्रति वर्ष विधायक निधी के रूप में सरकार से मिलता है। तो पिछले एक साल में इंदौर के 9 विधायक और एक सांसद का कुल 23 करोड़ रुपया कोरोना काल में कहां और किस मद में खर्चा किया गया है।
आज मध्यप्रदेश का हर शहर, कस्बा कोरोना की दूसरी सबसे घातक लहर की गिरफ्त में पूरी तरह जकड़ चुका है! पिछले साल मार्च 2020 से अभी तक प्रदेश के तकरीबन हर शहर ख़ासकर इन्दौर और भोपाल में अस्पताल कोरोना मरीजों से पटे पड़े हैं! इस 1 साल ने प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं, अस्पतालों और सुविधाओं की जर्जर अवस्था और व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है!
मात्र कुछ सैकड़ा मरीजों के लिए अस्पतालों में न तो बिस्तर है, न दवाइयां है! न ही ऑक्सीजन सिलेंडर है! न इंजेक्शन है! न जांच के उपकरण है! न ही प्रशिक्षित डॉक्टर है!
वही दूसरी ओर प्रदेश में 29 सांसद और 220 विधायक है! सरकार से हर साल प्रत्येक सांसद को 5 करोड़ रुपए और प्रत्येक विधायक को 2 करोड़ रुपए प्रति वर्ष मिलते हैं! सन 2020 और 2021 इन दो सालों का कुल 1170 करोड़ रुपए इन सांसदों और विधायकों ने अपने संसदीय और विधानसभा क्षेत्रों में किस मद में खर्चा किया है!?
कितने पैसे इन्होंने अपने क्षेत्रों के कोरोंना संक्रमित मरीजों के ईलाज के लिए बुनियादी जरूरतों और व्यवस्थाओं में खर्च किए!? इसका जवाब हर सांसद और विधायक को देना होगा!
@ प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर

Leave a Reply

Your email address will not be published.