क्या किसी ईमानदार कलेक्टर की क्षमता है कि वो नॉर्मल कोरोंना संक्रमण के प्राइवेट अस्पतालों में ईलाज के ये बिल भर सके!

  • कलेक्टर साहब ये आपके द्वारा निर्धारित रेट के आधार पर CHL अपोलो अस्पताल में नॉर्मल कोरोंना संक्रमित मरीज के ईलाज में सिर्फ 7 दिन का बिल 3 लाख रुपए है!

  • कलेक्टर साहब आपने तो रेट निर्धारित कर खुली छूट दे रखी है प्राइवेट अस्पतालों को कोरोना मरीजों के इलाज के नाम पर!

  • रेट की जगह एक फिक्स रेट तय कर देते तो ज्यादा बेहतर होता

  • मध्यप्रदेश सरकार के इंदौर कलेक्टर ने अभी कुछ दिन पहले सभी प्राइवेट संचालकों को संबोधित करते हुए कहा था कि “यदि किसी मरीज से निर्धारित दर (जो कलेक्टर साहेब ने निर्धारित की है) उससे अधिक पैसे लिए तो उन्हें मैं व्यक्तिगत रूप से परेशान कर दूँगा!

@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज 
इंदौर! 17 मार्च 2021 की शाम 7 बजे राजेश अग्रवाल निवासी गोयल नगर इंदौर अपनी 82 वर्षीय बुजुर्ग माँ को जिसे जांच मे कोरोंना संक्रमित पाया गया था को लेकर ए. बी रोड स्थित CHL अपोलो अस्पताल जाता है. अस्पताल प्रबंधन द्वारा बुजुर्ग महिला को तत्काल आई सी यू मे भर्ती किया जाता है! 1 दिन आई सी यू मे भर्ती करने के बाद, 18 मार्च को महिला को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया जाता है! 4 दिन आइसोलेशन वार्ड में भर्ती रहने के बाद महिला की कोरोना रिपोर्ट निगेटीव आ जाती है! फिर महिला को सेमी प्राइवेट वार्ड में भर्ती कर दिया जाता है! जहा 3 दिन भर्ती रहने के बाद 25 मार्च को सुबह छुट्टी दे दी जाती है! इन 7 दिनों में अस्पताल में भर्ती रहने का बिल महिला के पुत्र को दिया जाता है 3 लाख 1 हजार 16 रुपए! तकरीबन 40 हजार रुपए रोज!?

और ये सब चार्जस जो लगाए गए हैं वो इंदौर कलेक्टर द्वारा निर्धारित दरों के अनुसार है! जो निम्नानुसार है – –

  • आई सी यू का 1 दिन का चार्ज – – – 11000 रुपए

  • आइसोलेशन वार्ड का 1 दिन का किराया – – 6300 रुपए

  • सेमी प्रइवेट का 1 दिन का किराया – 3000 रुपए

  • इस तरह कुल 45400 रुपए सिर्फ किराए के!

  • 750 रुपए प्रतिदिन मरीज के भोजन और नाश्ते के!

  • 3000 रुपए प्रतिदिन आक्सीजन के!

  • डॉक्टर की विजिट की फीस 3200 रुपए प्रतिदिन!

  • पी पी ई किट चार्जेस 1500 रुपए प्रतिदिन!

  • चेस्ट का सी टी स्कैन – 5800 रुपए

  • फिजियोथेरेपी के चार्जेस 600 रुपए प्रतिदिन!

  • पेथालॉजी और रूटीन चेकअप चार्जेस – 36000 रुपए!

  • सर्विस चार्ज – 26816 रुपए

  • होम हेल्थ केयर – – 29200 रुपए!

  • इसके अलावा दवाइयों और अन्य छोटे ख़र्चे अलग!

यहां यह ध्यान देने की बात है कि कोरोंना संक्रमित मरीज दो तरह का होता है! पहला नॉर्मल जिसे सिर्फ, सर्दी, खासी और बुखार होता है जो साधारण दवा, सावधानी और होम कोरोंनटाईन से ठीक हो जाता है! दूसरा जिसे फेफड़े मे संक्रमण और साँस लेने में तकलीफ हो इस तरह का कोरोंना संक्रमण घातक होता है!
99 फीसदी से ज्यादा मरीज साधारण रूप से कोरोंना संक्रमित होते हैं!
@प्रदीप मिश्रा री डिसकवर इंडिया न्यू्ज इंदौर*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *